Tap to Read ➤

अहमद फ़राज़ की सबसे बेहतरीन शायरियां हिन्दी में

अहमद फ़राज़ साहब का जन्म 14 जनवरी 1931 को पाकिस्तान के नौशेरा शहर में हुआ था। उनका असली नाम सैयद अहमद शाह था, इस पोस्ट में Ahmad Faraz की बेहतरीन शायरियों का कलेक्शन लेकर आए हैं।
उसे तेरी इबादतों पे यकीन है नहीं,
जिस की ख़ुशियां तू रब से रो रो के मांगता है..
हम अपनी रूह तेरे जिस्म में छोड़ आए,
तुझे गले से लगाना तो एक बहाना था..
तू भी तो आईने की तरह बेवफ़ा निकला,
जो सामने आया उसी का हो गया..
वफ़ा की लाज में उसको मना लेते तो अच्छा था फ़राज़
अना की जंग में अक्सर जुदाई जीत जाती है..
ज़िन्दगी वो थी जो हम उसकी
महफ़िल में गुज़ार आए..
faraz shayari in hindi
कांच की तरह होते हैं गरीबों के दिल फ़राज़
कभी टूट जाते हैं तो कभी तोड़ दिए जाते हैं...
जो कभी हर रोज़ मिला करते थे फ़राज़
वो चेहरे तो अब ख़ाब ओ ख़याल हो गए..
Ahmad Faraz 2 line shayari
बस यही आदत उसकी मुझे अच्छी लगती है,
उदास कर के मुझे भी वो खुश नहीं रहता...
कौन देता है उम्र भर का सहारा,
लोग तो जनाज़े में भी कंधे बदलते रहते हैं....
अहमद फ़राज़ शायरी
यहां पढ़ें - Ahmad Faraz की बेहतरीन शायरियां.
👇
और पढ़ें